गोवा घूमने का खर्चा

Publishing time:2021-10-25 01:54:28

ऑनलाइन गेम jio गोवा घूमने का खर्चा 10cric निकासी समीक्षाएँ,casumo आयरलैंड,लीवगैस रिक्तियां,lovebet दा पारा गंहर दिनहिरो,lovebet पुराना संस्करण,lovebet.com सट्टेबाजी,या कैसीनो kortrijk facebook,बैकारेट गेम मशीन,बैकरेट विजेता,सट्टेबाजी संख्या ऑनलाइन,कैसीनो चुला विस्टा,कैसीनो जीतने के गुर,क्लासिकरम्मी ज़ोन,क्रिकेट मैच लाइव स्कोर,एक पाओ चाय पत्ती,च खेल स्लाइड,फुटबॉल खिलाड़ी जो पिच पर मर गए,उत्पत्ति कैसीनो वीआईपी,फुटबॉल लॉटरी पर ऑनलाइन बेट कैसे लगाएं,आईपीएल प्रश्नोत्तरी,जैकपॉट यंत्र परिणाम,लाइव कैसीनो ऐप,लॉटरी 4.7.2021,भाग्यशाली दिन कैसीनो कोई जमा नहीं,एनबीए प्लेयर रैंकिंग,ऑनलाइन शतरंज और कार्ड रूम,ऑनलाइन पोकर कोई डाउनलोड नहीं,परिमच kz,पोकर जोधपुर,असली दो-आठ बार का खेल,नियम मार्कोवनिकोव,रम्मी विजेता,मेरे पास स्लॉट मशीन,खेल एक शौक,स्पोर्ट्सबुक मेनू,टेक्सास होल्डम प्ले,tr लॉटरी परिणाम रात,बैकारेट मज़ा कहाँ है,y8 रम्मी,ऐलादी गोवा,क्रिकेट india,गोवा टू,तीन पत्ती mahal,बकरा उत्तराखंड,बेटिंग मीनिंग,लॉटरी रिजल्ट आज का, .अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

सर्वे के अनुसार, घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की.
नई दिल्ली : भारत में काम करने वाली करीब 87 फीसदी कंपनियां 2021 में कर्मचारियों का वेतन बढ़ाने की योजना बना रही हैं. इसके मुकाबले 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने ही वेतन में वृद्धि की. ग्‍लोबल प्रोफेशनल सर्विसेज फर्म एओन के सर्वे से इसका पता चलता है.

सर्वे के अनुसार, कोरोना संकट से प्रभावित अर्थव्यवस्था के दौर में घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की. यह पिछले एक दशक में सबसे निचला स्तर है. हालांकि, अगले साल औसत वेतनवृद्धि 7.3 फीसदी रहने का अनुमान है.

इसे भी पढ़ें : घर खरीदने के लिए क्‍या यह सबसे अच्‍छा समय है?

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है. 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने वेतन में वृद्धि की. जबकि 2021 में 87 फीसदी कंपनियां वेतनवृद्धि करने के पक्ष में हैं.

सर्वे के मुताबिक, भारत में औसत वेतनवृद्धि 2020 में 6.1 फीसदी रही. यह 2009 के 6.3 फीसदी के औसत से भी नीचे है. एओन के 'सैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडिया' में कहा गया है कि अगले साल कंपनियां वेतन में औसत 7.3 फीसदी की वृद्धि करेंगी. एओन ने इसके लिए 20 से अधिक इंडस्‍ट्रीज की 1,050 कंपनियों के बीच सर्वे किया था.

सितंबर-अक्टूबर 2020 की स्थिति तक 87 फीसदी कंपनियों ने 2021 में वेतनवृद्धि देने की प्रतिबद्धता जताई. जबकि इसमें 61 फीसदी कंपनियों ने कहा कि वे पांच से 10 फीसदी की वेतनवृद्धि देंगी.

इसे भी पढ़ें : होम लोन की मांग बढ़ने से बैंकों में छिड़ी ब्‍याज दर घटाने की जंग

वर्ष 2020 में 71 फीसदी कंपनियों ने वेतनवृद्धि दी. इसमें से 45 फीसदी ने पांच से 10 फीसदी के बीच वेतनवृद्धि दी. एओन में पार्टनर और सीईओ (परफॉर्मेंस एंड रिवॉर्ड सॉल्‍यूशंस) नितिन सेठी ने कहा, ''यह एक अनोखा साल है. कंपनियां अपने कर्मचारियों और ग्राहकों में निवेश कर रही हैं. कोविड-19 के गहरे असर के बावजूद कंपनियों ने कर्मचारियों को लेकर परिपक्‍व और लचीला रुख दिखाया है.''

हाई-टेक, आईटी, आईटीईएस, लाइफ साइंसेज, ई-कॉमर्स, केमिकल्‍स और प्रोफेशनल सर्विसेज ऐसे सेक्‍टरों में हैं जिनमें सबसे ज्‍यादा वेतनवृद्धि होने के आसार हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

वेतनवृद्धिसैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडियाकंपन‍ियांएओनसैलरी में बढ़ोतरीसर्वे

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read
अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

अगर आप युवा (20 के पड़ाव में) हैं और रिटायरमेंट के लिए बचत शुरू करना चाहते हैं तो आपका निवेश इक्विटी म्‍यूचुअल फंड में ज्‍यादा होना चाहिए.अधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.कोविड के बीच जानिए कहां मिल रही हैं नौकरियां

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में लोगों की दिलचस्पी बढ़ाने की कई कोशिश की जा रही है.फ्रैंकलिन टेम्पलटन एमएफ से आपको अपना निवेश कब निकालना चाहिए?

सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


परिमच डब फिल्में
fun88 कंपनी
स्पोर्ट्स बेटिंग नेटवर्क रैंकिंग
सीखने में आसान बैकरेट नियम
ई-स्पोर्ट्स कबूम
स्लॉट मशीन गेम मुफ्त
lovebet ज़रागोज़ा
कैसीनो ना
खुश किसान वारविक
कैंडी पॉप
रूले कुंजी डीलर
एक्स शतरंज अकादमी
या पोकर सुइट
नया कार्ड गेम डाउनलोड
उस पर शासन करो
कानून का शासन
लूडो निंजा डाउनलोड
इंडिबेट सट्टेबाजी
क्रिकेट डॉट कॉम
xfinity लाइव कैसीनो नौकरियां
पोकर चेहरा अंग्रेजी में मतलब
लाइव लाठी ऑस्ट्रेलिया
स्पोर्ट्स ओ जोन
कब jungleerummy junglee games
रश फिशिंग गियर
188bet जमा करने के तरीके
एनबीए सट्टेबाजी का अनुभव