ऑनलाइन जुआ प्रतिष्ठा रैंकिंग

ऑनलाइन जुआ प्रतिष्ठा रैंकिंग

time:2021-10-23 13:43:15 पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी Views:4591

स्पोर्ट्स 11 ऐप डाउनलोड ऑनलाइन जुआ प्रतिष्ठा रैंकिंग 10cric निकासी समीक्षाएँ,casumo आयरलैंड,लीवगैस रिक्तियां,lovebet दा पारा गंहर दिनहिरो,lovebet पुराना संस्करण,lovebet.com सट्टेबाजी,या कैसीनो kortrijk facebook,बैकारेट गेम मशीन,बैकरेट विजेता,सट्टेबाजी संख्या ऑनलाइन,कैसीनो चुला विस्टा,कैसीनो जीतने के गुर,क्लासिकरम्मी ज़ोन,क्रिकेट मैच लाइव स्कोर,एक पाओ चाय पत्ती,च खेल स्लाइड,फुटबॉल खिलाड़ी जो पिच पर मर गए,उत्पत्ति कैसीनो वीआईपी,फुटबॉल लॉटरी पर ऑनलाइन बेट कैसे लगाएं,आईपीएल प्रश्नोत्तरी,जैकपॉट यंत्र परिणाम,लाइव कैसीनो ऐप,लॉटरी 4.7.2021,भाग्यशाली दिन कैसीनो कोई जमा नहीं,एनबीए प्लेयर रैंकिंग,ऑनलाइन शतरंज और कार्ड रूम,ऑनलाइन पोकर कोई डाउनलोड नहीं,परिमच kz,पोकर जोधपुर,असली दो-आठ बार का खेल,नियम मार्कोवनिकोव,रम्मी विजेता,मेरे पास स्लॉट मशीन,खेल एक शौक,स्पोर्ट्सबुक मेनू,टेक्सास होल्डम प्ले,tr लॉटरी परिणाम रात,बैकारेट मज़ा कहाँ है,y8 रम्मी,ऐलादी गोवा,क्रिकेट india,गोवा टू,तीन पत्ती mahal,बकरा उत्तराखंड,बेटिंग मीनिंग,लॉटरी रिजल्ट आज का, .पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी

कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है.
कोलकाता : पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस अपने 5-7 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है. कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है. इस तरह पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस भी उन कंपनियों में शामिल हो गई है जिन्‍होंने पिछले छह महीनों में अपने कर्मचारियों की संख्‍या घटाई है.

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

इसे भी पढ़ें : पुराने कर्मचारियों को नौकरी पर बुला रही हैं आईटी कंपनियां

मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि कंपनी ने 80-100 लोगों को इस्‍तीफा देने के लिए कहा है. कर्ज देने वाली इस कंपनी का मार्केटकैप 4,863 करोड़ रुपये का है. इस पर 68 हजार करोड़ रुपये का लोन बकाया है. छंटनी से पहले देश के विभिन्न राज्‍यों में इसके 1500 कर्मचारी थे.

इस मामले पर ईटी के सवाल के जवाब में कंपनी ने कहा, ''हम अपने संसाधनों को दोबारा एलोकेट करने की प्रक्रिया में हैं. इसका मकसद पीएनबी हाउसिंग को सतत ग्रोथ की राह पर ले जाना है. इन कोशिशों में बहुत मुश्किल फैसले लेने पड़ रहे हैं. कार्यबल में सीमित संख्‍या में बदलाव भी इसका हिस्‍सा है. हालांकि, बताई गई संख्‍या सही नहीं है. यह बढ़ाचढ़ाकर दिखाई गई है.''

इसे भी पढ़ें : दो साल में इन 8 क्षेत्रों में होंगे नौकरी के खूब मौके

क्‍या कंपनी ने अपने सीनियर मैनेजमेंट को सालाना बोनस और इंक्रीमेंट दिया है, इस सवाल के जवाब में पीएनबी हाउसिंग ने कहा, ''कोरोना की महामारी से उपजी असाधारण स्थितियों के चलते कंपनी पहली तिमाही में ऐसा कर पाने में असमर्थ थी. अभी इसकी समीक्षा की जा रही है. समय के साथ इसके बारे में एलान किया जाएगा.''

पूंजी की कमी के चलते कंपनी का कारोबार पिछले साल से ही घटना शुरू हो गया था. जून तिमाही में डिस्‍बर्समेंट (लोन वितरण) 91 फीसदी घटकर 694 करोड़ रुपये रह गया. पिछले साल की इसी अवधि में यह 7,634 करोड़ रुपये था.

32.7 फीसदी होल्डिंग के साथ पीएनबी इस कंपनी की प्रमोटर है. उसने बीते महीने मॉर्गेज लोन देने वाली कंपनी में 600 करोड़ रुपये की पूंजी डालने का एलान किया था. कंपनी तरजीही आवंटन या शेयरों के राइट्स इश्‍यू के जरिये भी 1800 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने के बारे में विचार कर रही है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंसकर्मचारियों की छंटनीकोरोना की महामारीपीएनबीछंटनी

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read
MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.पेटीएम के सीएचआरओ रोहित ठाकुर ने ईटी को बताया कि पिछले तीन से चार महीनों में कंपनी ने करीब 700 लोगों की भर्ती की है. इन्‍हें ऑनलाइन रिक्रूट किया गया है.अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) बिजली उत्पादक कंपनी एसजेवीएन उत्तराखंड में जलविद्युत परियोजनाओं में अधिक निवेश करने को इच्छुक है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, जून 2022 तक 60 मेगावाट की नैटवर मोरी जलविद्युत परियोजना को पूरा होने की उम्मीद है। एसजेवीएन पनबिजली, पवन, सौर और तापीय क्षेत्र में काम कर रही है। कंपनी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, ‘‘एसजेवीएन के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक नंद लाल शर्मा ने देहरादून में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की। बैठक के दौरानपेटीएम बिजनेस के विस्तार के लिए 1,000 लोगों की भर्ती करेगी

Coal Shortage: कोल इंडिया रेकॉर्ड कोयले का प्रोडक्शन कर रही है, लेकिन देश में बहुत से पावर प्लांट्स को कोयले की कमी की दिक्कत झेलनी पड़ रही है। क्रिसिल की एक रिपोर्ट से पता चला है कि 73 फीसदी पावर प्लांट के पास तो करीब 5 दिन का ही कोयला स्टॉक में बचा है। कुछ राज्यों में तो कोयले की इतनी अधिक दिक्कत हो रही है कि वहां पर बिजली की कटौती अब आम बात हो गई है।एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.Coal Shortage: क्रिसिल की रिपोर्ट से हुआ खुलासा, कोयले की कमी से जूझ रहे हैं देश भर के पावर प्लांट, जानिए अभी कैसे हैं हालात

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
फुटबॉल को लाइव कैसे देखें

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.

लॉटरी इंग्लैंड

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.

ऑनलाइन पोकर हांगकांग

रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.

क्रिकेट डीपी

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.

खेल किताबें क्रिकेट

रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी